Web Browser क्या है संपूर्ण जानकारी ! 2022

Web Browser क्या है संपूर्ण जानकारी ! 2022

Web Browser क्या है संपूर्ण जानकारी ! 2022

Web Browser क्या है संपूर्ण जानकारी !
हेलो गाइस कैसे हो आप सब लोग आपका हमारे ब्लॉग पर तहे दिल से स्वागत है आज की इस पोस्ट में हम आपको Web Browser के बारे में जानकारी देने वाले हैं। जी हां दोस्तों क्या आप भी बेब ब्राउज़र के बारे में जानना चाहते हैं और जानकारी पाने के उद्देश्य से हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं तो हम आपको निराश नहीं करेंगे। और बहुत ही कम समय के अंदर आपको Web Browser के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करआएंगे। बस इसके लिए आपको हमारे इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक ध्यान पूर्वक पढ़ना है अगर आप हमारी पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक जान लेते हैं। तो हम इस बात का दावा करते हैं आप बहुत ही कम समय के अंदर वेव ब्राउज़र क्या है इसके बारे में जान सकते हैं। तो चलिए दोस्तों आगे बढ़ते हैं।

पहले के दौर में जब हमें कोई भी जानकारी लेनी होती थी तो हम ज्यादातर अपने टीचर या फिर बुक्स की सहायता से ढूंढ लेते थे या कोई हमसे बड़ा होता या फिर अपने माता-पिता से इस टॉपिक के बारे में पूछ लेते थे। लेकिन आज के टाइम में हमें जब भी कोई जानकारी प्राप्त करनी होती है तो हम इंटरनेट से उसके बारे में जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करते हैं। और आज के समय में हम सभी इंटरनेट से ही जानकारी हासिल करते हैं और इससे जानकारी आसानी से प्राप्त भी हो जाती है।

जिसके लिए स्मार्टफोन, लैपटॉप या फिर टेबलेट का प्रयोग किया जाता है लेकिन हम बस इंटरनेट से ही यह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। क्योंकि इंटरनेट से जोड़ने के लिए हमें एक माध्यम की आवश्यकता होती है। जिसमें हम अपने सवाल को लिखते हैं इसी माध्यम को ही Web Browser कहा जाता है शायद आपकी समझ में आ गया होगा कि Web Browser क्या होता है।

Web Browser क्या होता है ? 2022

आज की इस पोस्ट में हम आपको Web Browser क्या है और यह कैसे काम करता है बे ब्राउजर के बिना हमें इंटरनेट से कोई भी जानकारी नहीं ले सकते हैं। तो चलिए अब हम आपको बताने का प्रयास करते हैं कि वह ब्राउज़र क्या है या फिर Web Browser क्या है। इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़ते रहिए जिसमें आपको ब्राउज़र से जुड़ी हुई सारी जानकारी मिलने वाली है।

इंटरनेट की दुनिया में ब्राउज़र एक ऐसा प्रोग्राम सॉफ्टवेयर माना जाता है कि यूजर को इंटरनेट से जानकारी को ढूंढने में काफी ज्यादा सहायता मिलती है वह ब्राउज़र वह होता है। जो कि वर्ल्ड वाइल्ड वेब में मौजूद वेबसाइट पर मिलने वाली किसी भी तरह की जानकारी जैसे की इमेज, आर्टिकल, फोटो, वीडियो, म्यूजिक जैसी बहुत सारी चीजें को एक्सेस करने की अनुमति देता है।

आज हम इंटरनेट का प्रयोग करके जो भी चीज सर्च करते हैं या फिर पढ़ते हैं तो वह सब जानकारी वेबसाइट पर मौजूद रहती है। जो कंप्यूटर की भाषा में एचटीएमएल में लिखा जाता है जिसे हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज भी कहा जाता है इसी कोड को लेकर ही वेब पेज बनाकर तैयार किया जाता है। एचटीएमएल भाषा का प्रयोग वेबसाइट के पेज को डिजाइन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है जब भी ब्राउज़र एड्रेस बार में कोई भी सवाल लिखकर सर्च किया जाता है। तब यह सॉफ्टवेयर अनगिनत पेजेस जिसमें से हमारे द्वारा ढूंढ गए जानकारी को हमारे डिवाइस की स्क्रीन पर दिखा देती हैं। इंटरनेट और ब्राउज़र एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं Web Browser के बिना हम इंटरनेट पर कोई भी जानकारी प्राप्त नहीं कर सकते हैं।

Web Browser की हिस्ट्री

दोस्तो आप लोगों इस के नाम से ही अंदाजा लगा सकते हैं कि वह ब्राउज़र का मतलब क्या होता है देव का मतलब होता है “जाल” जिसे कंप्यूटर की भाषा में इंटरनेट का नाम दिया गया है। और ब्राउज़र का मतलब होता है “ढूंढना” इसका मतलब यह हुआ कि इंटरनेट पर जाकर किसी विषय में ढूंढना Web Browser की शुरुआत कब से हुई थी जब इंटरनेट की शुरुआत तबसे हुई थी जबसे इंटरनेट का आविष्कार हुआ था।

वर्ष 1990 में जब Tim Berners Lee जब कंप्यूटर पर किसी भी जानकारी को दूसरे के साथ साझा यानी कि शेयर करने के तरीके पर काम कर रहे थे तब उन्होंने ही हाइपरलिंक के द्वारा इस काम को बहुत ही आसान कर दिया है। हाइपरलिंक की एचटीएमएल एक कमांडो होती है जिसका उसे वेब पेज में लिखे हुए टैक्स मैं किया जाता है हाइपरलिंक टेक्स्ट का वह भाग होता है या वह हिस्सा होता है जिसमें अन्य किसी वेबपेज का पता दिया जाता है। जब कोई भी इस लिंक पर क्लिक कर देता है तो ब्राउज़र हमें दूसरे पेज पर ले कर चला जाता है।

👉 Jio-mart-kya-hai-2022/

Tim Berners Lee कंप्यूटर पर उपलब्ध डाटा या किसी जानकारी को किसी दूसरे कंप्यूटर पर पाने के लिए एचटीएमएल लैंग्वेज का प्रयोग किया एचटीएमएल को स्पेशल कमांड में लिखा जाता है। जो दूसरे प्रोग्रामिंग लैंग्वेज से अलग और बहुत ही ज्यादा आसान होता है इन स्पेशल कमांड स्कोर एचटीएमएल टैक्स के नाम से जाना जाता है। इन्हीं टैक्स का प्रयोग करके वेबपेज को बनाकर तैयार किया जाता है। लेकिन बहुत से टाइम दिक्कत ऐसी आती है इस टैक्स को हर कोई नहीं समझ पाता है। इसलिए Tim berners Lee ने एक ऐसे सॉफ्टवेयर को बनाकर तैयार किया जो एचटीएमएल टैक्स को पढ़कर यूजर के सामने एक योग्य भाषा में इंफॉर्मेशन को दे सके। इस सॉफ्टवेयर को ब्राउज़र का नाम दिया गया है इसीलिए इसे Web Browser कहा जाता है।

सबसे पहला वाला ब्राउज़र कौन सा है?

1) दुनिया के सबसे पहले वाले ब्राउज़र का नाम डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू यानी कि वर्ल्ड वाइल्ड वेब है जिसे Tim Berner Lee ने सन 1990 में बना कर तैयार किया था। बाद में इसका नाम बदलकर के Nexus रख दिया गया जो कि दुनिया का सबसे पहला ब्राउज़र था।

2) सन 1993 में मेक्सिको नाम का एक नया वेब ब्राउजर बनकर तैयार हुआ जिसका आविष्कार Marc Andreessen और उनकी टीम ने मिलकर बनाया था। इस नए फीचर की वजह से इसका प्रयोग दुनिया भर के लोगों ने करना शुरू कर दिया।

👉 Flipkart-health-plus-kya-hai-2022

अंतिम शब्द

दोस्तों उम्मीद करते हैं आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आती है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले। ताकि आपके दोस्त भी हमारी उसको उसको फॉलो करने के बाद Web Browser के बारे में जान सकें जी हां दोस्तों हमने इस पोस्ट में आपको Web Browser के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान की है।

Leave a Comment