Page index kya hai aur yah Kaise kam karta hai 2022

Page Index क्या है और यह काम कैसे करता है ? 2022

Page index kya hai aur yah Kaise kam karta hai.

Page Index क्या है और यह काम कैसे करता है ?
दोस्तों कैसे हो आप सब लोग आपका हमारे ब्लॉग पर तहे दिल से स्वागत है आज की इस पोस्ट में आपको Page Index के बारे में जानकारी देने वाले हैं। अगर आप भी Page index के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के उद्देश्य से हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं तो हम आपको निराश नहीं करेंगे और बहुत ही कम समय के अंदर आपको Page index के बारे में बताएंगे। और इसके साथ ही हम आपको बताएंगे कि पेज इंडेक्स काम कैसे करता है तो चलिए दोस्तों बिना समय गवाएं आगे बढ़ जाते हैं और जान लेते हैं। जिनके बारे में कि यह पेज इंडेक्स क्या होता है तथा यह काम कैसे करता है।

पेजेस इंडेक्सिंग जी हां दोस्तों आपको तो सुनने में थोड़ा अजीब सा लग रहा होगा या हो सकता है आपने इसके बारे में कभी सुना ही ना हो। यदि आप एक ब्लॉगर या फिर कंप्यूटर फील्ड से जुड़े हुए रहते हैं तो आपको इसके बारे में जरूर जानकारी प्राप्त करनी चाहिए आज के इस आर्टिकल में आप जानने वाले हैं। कि आखिर यह पेज इंडक्शन क्या है कैसे अपने लिखे हुए कंटेंट को पेजेस इंडेक्सिंग के लिए आप तैयार कर सकते हैं। तथा फीचर snippet से यह कैसे अलग है।

Page Index क्या है ?

गूगल इंडेक्स इन गूगल का ही एक ऐसा फीचर है जिसमें गूगल सर्च क्वेरी के हिसाब से रिजल्ट को आप लोगों को दिखाता है। यह सारे रिजल्ट को दिखाने के लिए गूगल वेब होस्ट के पास जिसको इंडेक्स करता है जब सर्च क्वेरी उस इंडेक्स पर जिससे मैच कर जाती है तो गूगल पर जिस इंडेक्स वाला रिजल्ट आपको दिखा देता है। यह नई रैंकिंग टेक्नोलॉजी को गूगल ने 11 फरवरी 2021 को ऑफीशियली तरीके से लागू किया था इससे पहले ज्यादा यूजर को फायदा नहीं होता था। जिसे अपने क्वेरी के जवाब के लिए काफी सारे वेबपेजइस को खोलने की आवश्यकता नहीं पड़ी।

शायद आप लोगों को इसके बारे में नहीं पता होगा तो हम आपकी जानकारी के लिए याद दिलाना चाहेंगे जब गूगल 2019 सितंबर महीने में बीई आरटी एल्गोरिथ्म अपडेट लेकर आया था। तब गूगल ने यह भी कहा था कि इसका असर केवल 10% सर्च क्वेरीज पर पड़ेगा लेकिन semrush के एक रिपोर्ट के मुताबिक बीआरटी एल्गोरिथ्म अपडेट का असर 99% सर्च क्वेरी पर पड़ा है। इंडेक्सिंग की शुरुआत भी यही हुई है।

Page Index क्या है और यह काम कैसे करता है ?

मान लेते हैं अगर आपके पास 1000 से लेकर 5000 शब्दों का कोई भी एक पोस्ट है जिसमें आपने काफी सारे सब हेडिंग्स का प्रयोग किया है। मान लेते हैं कि आपका कोई भी टॉपिक है जैसे कि seo क्या है इस आर्टिकल में हम off pages ए सी ओ और ऑन पेजऐसी seo और टेक्नोलॉजी seo, वाइटहेड एसीईओ, ग्रेड एसीईओ, ब्लैकहेड एसीईओ और वीडियो seo जैसी सब हेडिंग आती है।

जब आप लोग एक ही पोस्ट में इन सभी सब हेडिंग को लिख देते हैं तो गूगल H2, H3, H4, H5 और H6 हेडिंग के नीचे आने वाले पैराग्राफ को अलग से इंडेक्स कर देता है। इसलिए काफी seo एक्सपर्ट्स और tools जैसे रैंक मैच ऑल इन वन seo लॉस्ट ए सी यू हमेशा अपने कंटेंट को छोटे-छोटे पैराग्राफ में लिखने को ही कहते हैं।

कई बार आप लोगों ने देखा होगा एसीआरपी के क्वेश्चन में भी आपके पेजेस देखने के लिए मिल जाते हैं क्योंकि क्वेश्चन Schema आने से पहले ही गूगल ने पेजेस इंडेक्सिंग की टेस्टिंग को करना शुरू कर दिया था। जिसकी वजह से क्वेश्चन Schema धीरे-धीरे करके ले रहा था क्योंकि अब हम अपने वेब पेजेस के क्वेश्चन वाले कंटेंट को. Structured Markup डाटा की सहायता से गूगल को समझा सकते हैं।

👉 life-me-success-hone-ke-best-tarike-2022

Passage Indexing और Ranking क्या है ?

अब आप में से ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिनके मन में यह सवाल चल रहा है कि पेजेस इंडक्शन का मतलब क्या होता है पेजेस इंजेक्शन का मतलब यह नहीं कि गूगल आपके पैराग्राफ को सर्च रिजल्ट में दिखाने वाला है। बल्कि इसे हम एक रैंकिंग मान सकते हैं इसको और गहराई से जानने के लिए हम एक आसान सा एग्जांपल ही ले लेते हैं।

जैसे आप गूगल सर्च बार में गाइड लिखते हैं तो पहले गूगल आपके हेडिंग को देखकर आप के गार्ड को एसीआरपी में दिखाएगा। लेकिन पेजेस इंडक्शन आने के बाद गूगल आपके एक एक पैराग्राफ फॉर इंडेक्स करेगा ताकि जब भी कोई यूजर अपनी क्वेरी को पूछता है। तो अगर आपके पैराग्राफ है उसका जवाब है तो गूगल तुरंत ही आपके पेजस को उसके सामने लेकर आएगा।

और इसके बेस्ट practice वह लोग होते हैंजिनका कंटेंट काफी लंबा होता है इसमें रेलीवेंट कीबोर्ड को सबसे ज्यादा अहम भूमिका दी जाती है। खासकर जब आप का कंटेंट इंग्लिश भाषा में नहीं है तब आप रिलेटेड कीबोर्ड को अपने पैराग्राफ में इस तरह से प्रयोग कर सकते हैं कि वह आपके शब्दों के साथ घुल जाए।

पेजेस इंडेक्सिंग काम कैसे करता है ?

खास तौर पर हिंदी कंटेंट में अगर आपको ऐसे कीबोर्ड नहीं मिल पाते हैं तो ऐसे कीबोर्ड खोजिए जो कि आपके पोस्ट को दिखाने में सहायता करें। पेजेस इंडेक्सिंग का दूसरा मतलब यह भी होता है कि गूगल आप के कंटेंट के हर एक लाइन को खुद ही चेक करता है। और उसके बाद ही उसे इंडेक्स कर पाता है फीचर स्निफेड और पेजेस इंडेक्सिंग में अंतर गूगल के मुताबिक फीचर इन snippet में एक वेब पेज के उस रेलीवेंट पेज को लिया जाता है। जिसमें यूजर के क्वेरी को उत्तर देने की क्षमता हो अर्थात satisfying हो इसमें वेब पेज की अहम भूमिका जरूर होती है।

सर्च इनिंग लैंड के फाउंडर डैनी असली वन का यह मानना है कि वेबपेजेस के फीचर snippet में आने की सबसे ज्यादा बड़ी वजह होती है। वॉइस सर्च वहीं दूसरी तरफ से जिस इंडक्शन मैं कभी भी आपके वेब पेज के relevency पर ध्यान नहीं दिया जाता है बल्कि आपके पेजिस को इंडेक्स कर दिया जाता है।

🔍डिजिटल सिग्नेचर क्या होते हैं?

🔍Photo Lab क्या होता है, और इसका यूज करे?

🔍Lazypay से Personal Loan कैसे लें ?

🔍Domain Name क्या है फुल जानकारी?

👉 flipkart-health-plus-kya-hai-2022

निष्कर्ष

दोस्तों हम आपसे उम्मीद करते हैं आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी क्योंकि आज की इस पोस्ट में हमने आप लोगों को बताया है। कि पेजेस इंडेक्सिंग Page Index क्या होती है और यह काम कैसे करती है अगर आपको भी हमारी इस पोस्ट के बारे में जानना है तो हमारे इस पोस्ट को सही से फॉलो कीजिए और अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कीजिएगा।

Leave a Comment